SMPS Full Form in Computer | एसएमपीएस का फुल फॉर्म & मतलब क्या है!

एसएमपीएस का नाम तो सुना होगा, लेकिन यह क्या करता है और SMPS Full Form & SMPS Meaning Kya Hai के बारे में इस लेख में आपको जानकारी देंगे.

SMPS Meaning in Hindi Kya Hai

SMPS एक Electronic Power सप्‍लाई है जो कुछ तरह के Switching devices का उपयोग करता है ताकि (ताकि रजिस्टरों या कैपिसिटर शक्ति को AC से DC तक परिवर्तित कर सकें) सोर्स से लोड के लिए electrical एनर्जी ट्रांसफर हो सके। आमतौर पर सोर्स AC या DC होता है, और Load ‘DC’ होता है।

SMPS meaning / मतलब Switched-Mode Power Supply। और इसके साथ ही इसे, Switch-Mode Power Supply, Switching-Mode Power Supply, Switched Power Supply, SMPS, या Switcher के रूप में भी बोला और जाना जाता हैं।

SMPS Full Form in Computer / एसएमपीएस का फुल फॉर्म 

SMPS का Full form- Switched-Mode Power Supply। और इसके साथ ही इसे, Switch-Mode Power Supply, Switching-Mode Power Supply, Switched Power Supply, SMPS या Switcher के रूप में भी बोला और जाना जाता हैं।

How SMPS works? SMPS का कार्य Kya Hai?

  1. High efficiency स्विचिंग एक्शन का मतलब है कि सिरिज रेगुलेटर एलिमेंट या तो On या Off है और इसलिए कम एनर्जी हिट के रूप में नष्ट होती है और बहुत हाई एफिशिएंसी लेवल प्राप्त किया जा सकता है।
  2. SMPS technology, वोल्टेज step-up या Boost ऐप्‍लीकेशन या step-down या Buck ऐप्‍लीकेशन में high वोल्टेज conversion प्रोवाइड करता हैं।
  3. प्रत्येक electronic device की तरह, switch mode बिजली की आपूर्ति में कुछ सक्रिय और निष्क्रिय components भी शामिल होते हैं। और उन devices में से प्रत्येक की तरह, इसके अपने advantage और disadvantage हैं।
  4. हर एक technology के अपने advantages और disadvantages होते हैं। यही बात एक SMPS के लिए भी हैं।

Types of SMPS

SMPS में निम्नलिखित शामिल हैं

  • DC से DC Converter
  • Forward Converter
  • Flyback Converter
  • Self-Oscillating Flyback Converter

Types of Power Supply in Hindi:

मूल रूप से दो प्रकार के पावर सप्लाई हैं: Linear Regulated Power Supply (LRPS full form) और Switching Mode Power Supply (SMPS ka Full Form).

1) Linear Regulated Power Supply (LRPS):

Linear Regulated Power Supply, Series Pass कंट्रोल element की help से आउटपुट voltage को रेगुलेट करता है। सिरिज पास एलिमेंट  basic उदाहरण resistor है। लेकिन एक्टिव या Linear Mode मोड में अक्सर use किए जाने वाले Series पास एलिमेंट BJT या MOSFET हैं और वे Load के साथ सिरिज में connect होते है।

2) SMPS:

SMPS एक प्रकार का Regulated Power Supply है जो हाई frequency स्विचिंग regulator का इस्‍तेमाल कर पावर सप्‍लाई को convert करता हैं और इसके साथ ही कुशल तरीके से output को regulate करता हैं।

Switching रेगुलेटर भी Linear Regulator की तरह एक transistor (एक Power MOSFET की तरह) है लेकिन अंतर यही है कि SMPS में पास ट्रांजिस्टर लगातार पूरी तरह से ON स्‍टेट में नहीं रहता बल्कि हाई frequency पर पूरी तरह से ON और पूरी तरह से OFF स्‍टेट के बीच switch करता है। इसलिए इसका नाम Switching Mode Power Supply हैं।

जबकि Switching Element का ऐवरेज टाइम बहुत कम होता हैं. मतलब transistor एक्टिव state में बहुत कम समय होता हैं, तो Linear Regulators के मुकाबले Hit के रूप में पावर कम बर्बाद होता हैं। यह SMPS को हाई efficient बनाता हैं, क्योंकि Pass transistor (या Switching Element) के Voltage ड्रॉप बहुत कम है।

ट्रांजिस्टर की Switching एक्‍शन -Pulse Width Modulation (PWM) टेक्निक का उपयोग करके control किया जाता हैं और output वोल्‍टेज को PWM के डयुटी साइकिल से रेगुलेट किया जाता हैं।

Voltage converter:

इस stage में, एक हाई frequency ट्रांसफॉर्मर और इनर्वटेड AC उसके Primary वाइंडींग को drive करते हैं। यह आउटपूट पर अप और डाउन वोल्‍टेज क्रिएट करते हैं। जब DC कि जरूरत होती हैं, तब आउटपूट AC को DC में rectifier circuit के Silicon diodes या Schottky diodes का use कर convert किया जाता हैं।

Output regulator:

आउटपुट stage हमेशा एक feedback सिस्‍टम का उपयोग करके एक रेफसेंस voltage के साथ compare करके आउटपुट वोल्टेज को monitor करता है। सुरक्षा कारणों से, Computer के SMPS में दिखाए गए अनुसार optoisolator द्वारा आउटपुट stage अलग किया गया है। कुछ SMPS में, Open लूप रेगुलेशन का प्रयोग feedback सर्किट के बिना किया जाता है और ट्रांसफार्मर इनपुट के लिए लगातार voltage को feed किया जाता है।

Feedback Circuit को पावर जनरेट करने से पहले run होने के लिए पावर की ज़रूरत होती है, इसलिए स्टैंडबाय के लिए अतिरिक्त Non-Switching Power-Supply जोड़ा जाता है।

What is Use of SMPS in Computer?

अब सभी लोग कंप्यूटर का use करते है, वो चाहे Personal Computer हो या Laptop इनके अंदर जो विभिन्न computer parts है उनको चलने के लिए बिजली कि आवस्यकता होती है. पर जो बिजली हम घर में इस्तेमाल में लाते है उससे काफी कम की जरूरत होती है. जैसे बात करे टीवी, फ्रिज, आयरन, ओवन etc., इन सबको डायरेक्ट 220v- 240v चाहिए होता है. किन्तु यही करंट हम अगर कंप्यूटर के पार्ट्स को डायरेक्ट दे देंगे तो सब जल जायेगा, फिर अगर बात करे वैसे कितनी voltage चाहिए कंप्यूटर के different parts को चलाने के लिए. चलिए जानते है SMPS के बारे में Switched-Mode Power Supply (SMPS Full Form).

जोकि एक Electronic circuit है, यदि Desktop Computer के लिए अलग से देखा या purchase किया जाये तो अलग से आपको एक square type का डिब्बा मिलेगा वही SMPS है. यही डिवाइस कंप्यूटर के अलग-अलग parts को Power सप्लाई देता है जैसे की Motherboard, RAM, FAN. वैसे Motherboard से अलग-अलग हिस्सों तक बिजली Supply होती है.

सबसे पहले Power Supply Main घर के बोर्ड से कंप्यूटर को सप्लाई देते है वो सबसे पहले Alternate Current एक ही form में रहता है फिर जब ये AC कंप्यूटर के SMPS के पास जाता है फिर ये SMPS इसको DC में कन्वर्ट कर देता है. इस के लिए SMPS Capacitor और Diode का प्रयोग करता है. ये सब Regulator कि मदद से स्विच को कभी ON तो कभी OFF करता है मतलब Switch Mode चेंज करता है. कभी DC को AC में कन्वर्ट करता है तो कभी AC को DC में इसलिए इसका नाम SMPS (Switch Mode Power Supply- Full form of SMPS) स्विच मोड पावर सप्लाई है.



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *