Full Form of UPS | यूपीएस का फुल फॉर्म & मतलब जानिए

Full form of UPS in Hindi / UPS ka full form or full name kya hai. इसकी जानकारी के लिए यह पोस्ट पढ़िए.

अगर आप भी किसी office में काम करते हैं और रोज़ UPS शब्द के संपर्क में आते हैं मगर इसके बारे में अधिक नहीं जानते तो यह article आपके लिए है। इस लेख में UPS से सम्बंधित समस्त बेसिक जानकारी प्रदान करने की कोशिश की गयी है।

यूपीएस फुल फॉर्म क्या है? / UPS Full Form Kya hai

Full Form of UPS – “Uninterruptible Power Supply” है और सामान्य भाषा में इसको “Battery Backup” के नाम से भी जाना जाता है।

 यूपीएस का मतलब क्या है? / UPS Meaning in Hindi

UPS एक प्रकार की hardware device है जिसका उपयोग पावर आउटेज (ब्लैकआउट), बर्नआउट या पावर सर्ज के दौरान computer को start रखने के लिए किया जाता है। यह पावर फेल होने की स्थिति में कुछ मिनटों तक आपके कंप्यूटर को On रखता है।

सरल भाषा में समझें तो UPS एक ऐसी device है जो आपको power disruption द्वारा किसी भी प्रकार कि वित्तीय या मानसिक हानि होने से बचाती है।

Usages of UPS in Computer

प्रायः UPS का उपयोग hardware & devices की सुरक्षा के लिए किया जाता है। कंप्यूटर, डाटा सेंटर, टेलीकम्यूनिकेशन उपकरण या अन्य इलेक्ट्रिकल उपकरणों को पावर disruption द्वारा आंशिक या पूर्ण हानि और डाटा लॉस का खतरा रहता है, ऐसे में UPS इन सभी उपकरणों को लगातार power सप्लाई करता है और किसी भी प्रकार का अप्रत्याशित नुक्सान होने से बचाता है। Also read full form of CPU parts.

अगर आपके computer system में UPS के द्वारा power दी जा रही है तो आपके कंप्यूटर को न सिर्फ पावर disruption से सुरक्षा मिलती है बल्कि पावर फेलियर की स्तिथि में 10 -20 मिनट का अतिरिक्त समय भी मिलता है जिसमे आप अपना ज़रूरी काम सेव कर सकते हैं और सामान्य रूप से कंप्यूटर shut down भी कर सकते हैं।

अगर आप बिना UPS वाले कंप्यूटर सिस्टम पर कोई ज़रूरी काम कर रहे हैं और अकस्मात् ही power supply off हो जाती है तो आपका कंप्यूटर सिस्टम तुरंत बंद हो जाएगा और आपने जितना भी काम किया है वो सेव नहीं हो पायेगा, आपकी सारी मेहनत बेकार हो जायेगी।
इस प्रकार कि स्तिथि से बचने के लिए हमेशा UPS का उपयोग करना चाहिए।

यूपीएस के प्रकार / Defferent Types of UPS

उपयोग और क्षमता के अनुसार कई  UPS types प्रचलित हैं। इनमे से मुख्य 6 इस प्रकार हैं:

  1.  Standby UPS
  2.  Line Interactive
  3.  Standby on-line Hybrid
  4.  Standby-Ferro
  5.  Double Conversion On-Line
  6.  Data Conversion On-Line

इन सभी में Standby UPS सर्वाधिक प्रचलित है। आम तौर पर Personal computer को पावर disturbance के द्वारा होने वाले नुक्सान से बचाने के लिए जो UPS उपयोग में लाये जाते हैं वह Standby UPS ही होते हैं। अन्य सभी UPS भी अनेक महत्वपुर्ण कार्यों को पूरा करने के लिए इस्तमाल किये जाते हैं। जैसे कि, एक से अधिक सिस्टम (कंप्यूटर, इलेक्ट्रिकल, टेलीकम्यूनिकेशन, आदि) को एक ही समय पर पावर बैकअप देने के लिए, linear पावर सप्लाई के लिए, और अन्य सुविधाएं प्रदान करने के लिए।

Functions of an UPS Device / How UPS works?

एक UPS के main functions निम्नलिखित हैं:
• यह छोटे-छोटे power gaps को अवशोषित करता है।
• यह शोरगुल करने वाले पावर सोर्सेज को शांत करता है।
• यह electricity line intruption के दौरान उपकरणों को लगातार पावर सप्लाई करता है।
• लम्बी अवधि के पावर आउटएजेस के दौरान ये उपकरण को ऑटोमेटिकली शट डाउन कर देता है।
• यह पावर सप्लाई में किसी भी प्रकार की गड़बड़ के लिए हमेशा मॉनिटरिंग करता रहता है।
• UPS दर्शाता है कि उपकरण में कितने वोल्ट का currunt जा रहा है।
• UPS यह भी दर्शाता है कि power line में कितना करंट आ रहा है।
• किसी भी प्रकार कि गड़बड़ के समय इसका अलार्म सक्रिय हो जाता है।
• यह आपके उपकरणों को शार्ट-सर्किट से पूर्णतः सुरक्षित रखता है।

Benefits of Uninterruptible Power Supply (Full Form of UPS)

UPS अनेकों लाभ प्रदान करता है। इनमे से तीन main advantages इस प्रकार हैं:

1. Continuous Operation: यह सबसे महत्वपूर्ण है। मुख्य पावर सप्लाई में किसी भी प्रकार का अवरोध आने पर इसमें मौजूद बैटरी आपके उपकरण को एक निश्चित अवधि तक पावर प्रदान करती है। इस समय में आप अपना कार्य सेव कर सकते हैं और सही प्रकार से अपनी डिवाइस बंद कर सकते हैं ।

2. Protection: UPS में मौजूद सर्किट लगातार वोल्टेज मॉनिटर करता रहता है और सर्जेस, स्पाइक्स व आउटएजेस कि पूरी जानकारी रखता है। जब भी कोई इलेक्ट्रिकल प्रॉब्लम होती है तो इसकी बैटरी द्वारा AC पावर सप्लाई होने लगती है। इस प्रकार यह आपके इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों को उच्च श्रेणी का protection देता है।

3. Confidence: यह सुनने में अजीब लगे लेकिन UPS आपके कॉन्फिडेंस प्रदान करता है। अगर आपके उपकरण UPS से लिंक्ड हैं तो आपको पावर ब्लैकआउट्स, फेलियर, सर्जेस, आदि द्वारा होने वाले नुक्सान का भय नहीं रहता। आपका कॉन्फिडेंस बढ़ता है और आप निरंतर अपने काम पर फोकस कर सकते हैं।

Difference between Inverter and UPS / यूपीएस और इन्वर्टर में अंतर

UPS & Inverter में कई defferences हैं, उनमे से कुछ प्रमुख इस प्रकार हैं:

• UPS का उपयोग ज़्यादातर Computer System को पावर बैकअप प्रदान करने के लिए होता है जबकि Inverter का ज़्यादातर उपयोग घरेलू पावर बैकअप प्रदान करने के लिए होता है।

• अगर कंप्यूटर power backup के लिए Inverter का इस्तमाल किया जाए तो पावर जाने पर एक माइक्रोसैकेण्ड के लिए आपके कंप्यूटर कि पावर सप्लाई कट जायेगी। इस एक माइक्रोसैकेण्ड में आपका कंप्यूटर अचानक shut down हो जायेगा और आपका सभी महत्वपूर्ण task save नहीं हो पायेगा। मानसिक और आर्थिक हानि के लिए इतना ही काफी है। इसके विपरीत अगर आप UPS का इस्तमाल करते हैं तो ऐसी कोई परेशानी नहीं आएगी। UPS in Wikipedia.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *